।। जय श्री राम ।। जय श्री अंजनीलाल ।। ॐ नमः शिवाय ।।
श्री अंजनीलाल मंदिर धाम, ब्यावरा
म.प्र. शासन द्वारा पंजीकृत ट्रस्ट (धर्मिक, सामाजिक, राष्ट्रीय एवं मानव हितार्थ कार्यो में अग्रणी संस्था)
2 अप्रैल 2022 - 11 अप्रैल 2022
चैत्र नवरात्रि उत्सव

जैसे मां दुर्गा के लिए महा नवरात्रि मनाई जाती है। भगवान विष्णु के अवतार श्री राम के लिए नौ दिनों तक चैत्र नवरात्रि मनाई जाती है।

पूर्ण विवरण
श्री अंजनीलाल की जय

श्री अंजनीलाल मंदिर धाम कलशारोहण समारोह में आप सभी का स्वागत है

श्री अंजनीलाल जी का मंदिर अब विशाल आकार ले चुका है। उत्तक मंदिर की दिव्य आभा स्वेत मकाराना मार्बल से अद्धभुत रूप में परिलक्षित हो रही है। सैकड़ो भक्तो को श्रद्धा और सहयोग से निर्मित यह भव्य व विशाल मंदिर अद्वितीय रूप ले चुका है।

भगवन अंजनीलाल जी के इस नवनिर्मित मंदिर का कलशारोहण समारोह श्री हनुमान जयंती के शुभ अवसर पर पूर्ण विधि विधान से सम्पन्न होने जा रहा है। समस्त कार्यक्रमो में सपरिवार एवं मित्रो सहित सम्मिलित होकर पुण्य लाभ प्राप्त करें।

।। जय श्री राम ।। ॐ नमः शिवाय ।।

श्री अंजनीलाल मंदिर धाम के मुख्य तीन स्तंभ

शुद्ध सफेद संगमरमर से बना यह तीन भव्य मंदिर आस्था का प्रतिक है। यहां तक कि तीनों मंदिरों की वास्तुकला भी बहुत अनूठी है। श्री अंजनीलाल जी के ठीक सामने विराजते है श्री राम भगवन। और बारहा जोतिर्लिंगो को एक में समाए भगवान व्दादशज्योतिर्लिगेश्वर महादेव भी इनके समीप ही विराजमान है।

धार्मिक एवं सामाजिक

धाम में आयोजित होने वाले त्योहार उत्सव एवं सामाजिक कार्यक्रम

सभी त्योहार श्री अंजनी लाल मंदिर धाम में बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाए जाते हैं। जैसे हर त्यौहार की अपनी एक अलग पहचान है, उसी तरह धाम पर हर त्यौहार पर विभिन्न - विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। श्रद्धालुगण इन त्यौहारो पर आयोजित समस्त वैदिक रीति से होने वाले पूजा पाठ, अभिषेक अनुष्ठान, हवनशांति, व अखण्ड रामायण पाठ आदि का लाभ लेते है। कई त्यौहारो पर नगर में विशाल शोभा यात्रा भी निकली जाती है।

चैत्र नवरात्रि उत्सव

जैसे मां दुर्गा के लिए महा नवरात्रि मनाई जाती है। भगवान विष्णु के अवतार श्री राम के लिए नौ दिनों तक चैत्र नवरात्रि मनाई जाती है।

नियम अनुसार
अंजनीलाल मंदिर धाम
विशाल कावड़ यात्रा

कावड़ यात्रा एक वार्षिक उत्सव है जिसमें सभी श्रद्धालु त्रिवेदी से पवित्र जल लाते हैं और 16 KM पैदल चलकर महादेव शिव को पवित्र जल चढ़ाते हैं।

सुबह 5:00 बजे से
श्री अंजनीलाल मंदिर धाम, ब्यावरा
पूजा एवं अभिषेक

श्री अंजनी लाल मंदिर धाम पर होने वाली भगवान की सेवाएं

भगवन की सेवा, पूजा व अभिषेक न केवल अपनी मनोकामना पूर्ति व गृह सुख, शांति, सामर्थी के लिए करना चाहिए। यह अनुष्ठान आपके पुरे परिवार को आध्यात्मिकता व अपनी संस्कृति से जुड़े रहने में भी सहयक है। श्री अंजनी लाल की पावन भूमि पर पूजा पढ़ करने से मन को शांति व ऊर्जा प्राप्त होती है। दूरसे शहरो से आने वाले श्रद्धालुओं की ववस्तायो का मंदिर ट्रस्ट ने विशेष ध्यान रखा है।

श्री व्दादश ज्योतिर्लिगेश्वर अभिषेक

प्रति दिन प्रातः 05:30 से

श्री व्दादश ज्योतिर्लिगेश्वर महादेव बारह ज्योतिर्लिंगों का समावेश है। इनकी विधि विधान से पूजा अर्चना करने से बारह ज्योतिर्लिंगों का पुण्य एक साथ प्राप्त होता है। आप अपने पुरे परिवार के साथ श्री व्दादश ज्योतिर्लिगेश्वर अभिषेक का लाभ ले सकते है। + पूरा पढ़े

श्री अंजनी लाल अभिषेक

प्रति दिन प्रातः 05:30 से

घर, परिवार कि सुख, शान्ति, समर्धि, कष्ट निवारण व मनोकामनाओ कि पूर्ति के लिये भगवान श्री अंजनी लाल का अभिषेक किया जाता है। पूर्ण निष्ठा व विश्वास से करने पर निश्चित फल कि प्राप्ती होती है। मन्दिर धाम पर इन चमत्कारों को प्रत्यक्ष अनुभव किया जा सकता है। + पूरा पढ़े

लेख व पर्यटन स्थलश्री अंजनी लाल मंदिर धाम के लेख व आसपास के दर्शनीय स्थान
15 अप्रैल 2020

हनुमान जयंती 2020

हनुमान जयंती 2020 सभी सरकारी नियमों को ध्यान में रखते हुए और समाज हित में काम करते हुए मनाई गई। हमे एक जुट हो कर ही इस महामारी पर विजय प्राप्त करनी होगी।

158 KM

महाकालेश्वर की नगरी उज्जैन

हिंदू धर्म के सात पवित्र शहरों में से एक और इसे मंदिरों का शहर भी कहा जाता है। आपको इस शहर में हर हिंदू भगवान के लिए एक मंदिर मिल सकता है। यहां तक कि कुछ बहुत ही अनोखे हैं और उनके पीछे एक समृद्ध इतिहास है।